વિવિધા

Just another WordPress.com site

ક્વોટેશન


જયારે લાંબુ વાંચવું ના હોય, ધાર્મિક વાંચનમાં મન લાગતું નાના હોય ત્યારે મહાન માણસોના ક્વોટેશન વાંચવાથી મન હળવું થાય છે. ગમે ત્યાંથી શરુ કરી ઈચ્છો ત્યાં પૂરું કરી કરી શકાય છે. અનુભવના નિચોડ સ્વરૂપ હોય છે તેથી વતે ઓછે અંશે દરેકને લાગુ પડતું હોય છે. તેથી વાચતા જે ગમ્યા તે મુક્યા છે.

लोकतंत्र तब होगा जब गरीब ना कि धनाड्य शाशक हों……Aristotle

शिक्षा बुढ़ापे के लिए सबसे अच्छा प्रावधान है…… Aristotle

अच्छा व्यवहार सभी गुणों का सार है…….Aristotle

जिस व्यक्ति ने कभी गलती नहीं कि उसने कभी कुछ नया करने की कोशिश नहीं की…….Albert Einstein

जो छोटी-छोटी बातों में सच को गंभीरता से नहीं लेता है , उस पर बड़े मसलों में भी भरोसा नहीं किया जा सकता……..Albert Einstein

इश्वर के सामने हम सभी एक बराबर ही बुद्धिमान हैं-और एक बराबर ही मूर्ख भी…… Albert Einstein

दो चीजें अनंत हैं: ब्रह्माण्ड और मनुष्य कि मूर्खता; और मैं ब्रह्माण्ड के बारे में दृढ़ता से नहीं कह सकता……Albert Einstein

मैं  किसी  समुदाय  की  प्रगति  महिलाओं  ने  जो  प्रगति  हांसिल  की  है  उससे  मापता  हूँ ……..B. R. Ambedkar

क़ानून  और  व्यवस्था  राजनीतिक  शरीर  की  दवा  है  और  जब  राजनीतिक  शरीर  बीमार  पड़े  तो  दवा  ज़रूर  दी  जानी  चाहिए …….B. R. Ambedka

हम  भारतीय  हैं , पहले  और   अंत  में ……B. R. Ambedka

 आपके  सबसे  असंतुष्ट  कस्टमर  आपके  सीखने  का  सबसे  बड़ा  श्रोत  हैं ……Bill Gates

सफलता  की  ख़ुशी  मानना  अच्छा  है  पर  उससे  ज़रूरी  है  अपनी  असफलता  से  सीख  लेना ……Bill Gates

अज्ञानी होना उतनी शर्म की  बात नहीं है जितना कि सीखने की इच्छा ना रखना……..Benjamin Franklin

तैयारी  करने में फेल होने का अर्थ है फेल होने के लिए तैयारी करना…….Benjamin Franklin 

संतोष गरीबों को अमीर बनाता है, असंतोष अमीरों को गरीब……. Benjamin Franklin 

लेनदारों की यादाश्त देनदारों से अछि होती है……Benjamin Franklin

कुछ ऐसा लिखें जो पढने लायक हो या कुछ ऐसा करें जो लिखने लायक हो…….Benjamin Franklin 

जो व्यक्ति भी विकास के लिए खड़ा है उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी , उसमे अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी…..Bhagat Singh

क़ानून की पवित्रता तभी तक बनी रह सकती है जब तक की वो लोगों की इच्छा की अभिव्यक्ति करे…..Bhagat Singh

अगर सांप जेह्रीला ना भी हो तो उसे खुद को जहरीला दिखाना चाहिए….. Chanakya

शिक्षा सबसे अच्छी मित्र है.एक शिक्षित व्यक्ति हर जगह सम्मान पता है. शिक्षा सौंदर्य और यौवन को परास्त कर देती है…… Chanakya

हम सोचते बहुत हैं और महसूस बहुत कम करते हैं …..Charlie Chaplin

ज़िन्दगी करीब से देखने में एक त्रासदी है , लेकिन दूर से देखने पर एक कॉमेडी ……Charlie Chaplin

मुझे लगता है कि सही समय पर गलत काम करना जीवन की विडंबनाओं में से एक है……Charlie Chaplin

मैं सुनता हूँ और भूल जाता हूँ , मैं देखता हूँ और याद रखता हूँ, मैं करता हूँ और समझ जाता हूँ….Confucius

हम तीन तरीकों से ज्ञान अर्जित कर सकते हैं. पहला, चिंतन करके, जो कि सबसे सही तरीका है. दूसरा , अनुकरण करके,जो कि सबसे आसान है, और तीसरा अनुभव से ,जो कि सबसे कष्टकारी है.. Confucius

उस काम का चयन कीजिये जिसे आप पसंद करते हों, फिर आप पूरी ज़िन्दगी एक दिन भी काम नहीं करंगे.

 सभी प्रमुख धार्मिक परम्पराएं मूल रूप से एक ही संदेश देती हैंप्रेम , दया,और  क्षमा , महत्वपूर्ण बात यह है कि ये  हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा होनी चाहियें…..Dalai Lama

यदि  आपकी  कोई विशेष निष्ठा या धर्म है, तो अच्छा है. लेकिन आप उसके बिना भी जी सकते हैं….. Dalai Lama 

पहले कठिन काम पूरे कीजिये. आसान काम खुदबखुद पूरे हो जायेंगे…..Dale Carnegie

 उनसे मत डरिये जो बहस करते हैं बल्कि उनसे दरिये जो छल करते हैं…..Dale Carnegi

प्रसन्नता बाहरी परिस्थितियों पर निर्भर नहीं करती, वो हमारे मानसिक दृष्टिकोण से संचालित होती है…..Dale Carnegie

लोग शायद ही कभी सफल होते हैं जब तककि जो वो कर रहे हैं उसमें आनंद ना लें……Dale Carnegie

दर्शकों से बताइए की आप क्या कहने जा रहे हैं, उसे कहिये,और फिर उन्हें बताइए की आपने क्या कहा…..Dale Carnegie

अगर तुम्हे नीद नहीं रही , तो उठो और कुछ करो , बजाये लेटे रहने और चिंता करने के. नीद की कमी नहीं, चिंता तुम्हे नुकसान पहुंचाती है….Dale Carnegie

किसी बहस का सबसे अधिक लाभ उठाने का एक ही तरीका है कि उसे टाल दें……Dale Carnegie

 जब भाग्य आपको नींबू दे तो उसका शरबत बना लीजिये……Dale Carnegie

हम  अपने  शाशकों  को  नहीं  बदल  सकते  पर  जिस  तरह  वो  हम  पे  शाशन  करते  हैं  उसे  बदल  सकते  हैं ….. Dheerubhai Ambani

 कठिन  समय  में  भी  अपने  लक्ष्य  को  मत  छोड़िये  और  विपत्ति  को  अवसर  में  बदलिए …..Dheerubhai Ambani

समय  सीमा  पर  काम  ख़तम  कर  लेना  काफी  नहीं  है  ,मैं  समय  सीमा  से  पहले  काम  ख़तम  होने  की  अपेक्षा  करता  हूँ Dheerubhai A

 गलतियाँ  करते  हुए  बीताया  गया  जीवन  बिना  कुछ  किये  बीताये  गए  जीवन  की  तुलना  में    सिर्फ  अधिक  सम्मानजनक  है  बल्कि  अधिक  उपयोगी  भी  है ……George Bernard Shaw

 जानवर  मेरे  दोस्त  हैंऔर  मैं  अपने  दोस्तों  को  नहीं  खाता …..George Bernard Shaw

 जो  लोग  कहते  हैं  कि  इसे  नहीं  किया  जा  सकता  उन्हें  उन  लोगों  को  नहीं  टोकना  चाहिए  जो  कर  रहे  हैं ……George Bernard Shaw

दुनिया  के  साथ  सबसे  बड़ी  समस्या  ये  है  कि  मूर्ख  और  कट्टरपंथी  खुद  को  लेकर  बिल्कुल   दृढ  होते  हैं , और  बुद्धिमान  लोग  संदेह  से  भरे  होते  हैं …..George Bernard Shaw

आशावादी  और  निराशावादी  दोनों  ही   समाज  के  लिए  योगदान  करते  हैं। आशावादी  हवाईजाहज  का आविष्कार  करता  है , निराशावादी  पैराशूट  का  …George Bernard Shaw

झूठे  ज्ञान  से  खबरदार  रहिये  ये  अज्ञान  से  भी  ज्यादा  खतरनाक  है …..George Bernard Shaw

एक  खुशहाल  परिवार   कुछ  नहीं  बस  स्वर्ग  से  पहले  का  स्वर्ग  है …..George Bernard Shaw

एक  सज्जन  व्यक्ति  वह  है  जो  दुनिए  से  जितना  लेता  है  उससे  अधिक  देता  है ……George Bernard Shaw 

एक  आदमी  या  औरत  के  पालन -पोषण  का  परीक्षण  है  की  वे  झगड़ा   होने  पर  कैसे  व्यवहार  करते  हैं .

 यदि  सभी अर्थशास्त्रियों  को  एक  साथ   बैठा  दिया  जाये , तो  वे  कभी  निष्कर्ष  तक  नहीं  पहुँच  पायेंगे .

 कहने  के  लिए  ढेर  सारी  चतुराई  भरी  बातें  जान  लीजिये , और  आप प्रधानमन्त्री  बन  जायेंगे ; उन्हें लिख  डालिए  और  आप  शेक्सपीयर  बन  जायेंगे …..George Bernard Shaw

 इंग्लैंड  और  अमेरिका  एक  ही  भाषा  द्वारा  विभाजित  दो  देश  हैं ……George Bernard Sha

 एक  आदमी  आपको  तब  तक  कुछ  नहीं  बताता  जब  तक  आप  उसकी  बात  का  खंडन    करें .

  जब  कोई  आदमी  कहता  है  कि   पैसा  कुछ  भी  कर  सकता  है , तो  साफ़  हो  जाता  है : उसके  पास  बिलकुल  नहीं  है .

George Bernard Shaw

बिना प्रभु और बाइबिल के देश पर सही ढंग से शासन करना असंभव है…..George Washington

यदि बोलने की स्वतंत्रता छीन ली जाये तो शायद गूंगे और मौन हम उसी तरह संचालित होंगे जैसे भेड़ को बलि के लिए ले जाया जा रहा हो .

प्रसन्नता और नैतिक कर्तव्य एक दूसरे से पूरी तरह से जुड़े हुए हैं…..George Washington 

बुरी संगत में रहने से अच्छा अकेले रहना है ……. George Washington

बेकार का बहाना बनाने से अच्छा है कोई बहाना ना बनाना ……George Washington

युद्ध के लिए तैयार रहना शांति बनाये रखने के सबसे प्रभावी साधनों में से एक है .

न्याय का प्रबंध सरकार का सबसे मजबूत स्तम्भ है ….George Washington

ખોટા માર્ગે છીએ તેવી ખબર પડ્યે યુ ટર્ન લઇ લેવો.

સારી જિંદગીનું કોઈ સમીકરણ નથી. પણ વિવિધ રસ્તાઓના સરવાળાથી પામી શકાય.

જીભ લપશે તેના કરતાં પગ લપશે તો ઓછી હાની થાય.

कोई उसे तर्क द्वारा नहीं समझ सकता, भले वो युगों तक तर्क करता रहे……Shree Guru Nanak Dev 

“Live as if you were to die tomorrow. Learn as if you were to live forever.”….. Mahatma Gandhi

सफलता का रहस्य है साधारण चीजों को असाधारण तरीके से करना ….John D. Rockefeller

नौकरशाह के लिए दुनिया महज एक हेर-फेर करने की वस्तु है …..Karl Mar

अगर आप चाहते हैं कि कोई चीज अच्छे से हो तो उसे खुद कीजिये….Napoleon Bonaparte

 राजनीति में मूर्खता एक बाधा नहीं है……. Napoleon Bonaparte

कभी भी जब आपका शत्रु कोई गलती कर रहा हो तो उसके काम में बाधा मत डालिए.Napoleon Bonaparte

हालांकि, जीवन  का  रहस्य   सात  बार  गिरना  और  आठ  बार  उठाना  है .Paulo Coelho

एक अच्छा निर्णय ज्ञान पर आधारित होता है नंबरों पर नहीं.

जैसा कि बिल्डर कहते हैं; बड़े पत्थर बिना छोटे पत्थरों के सही से नहीं लग सकते हैं.

नर्क खाली है और सभी शैतानों यहाँ हैं…….William Shakespeare

मुझे लगता है कि तैयारी और अवसार का मिलन ही भाग्य है.Oprah Winfrey

जब प्यार और नफरत दोनों ही ना हो तो हर चीज साफ़ और स्पष्ट हो जाती है……Osho 

ગાંડા તો બધા જ હોય છે પણ પોતાના ગાંડપણ નું વિશ્લેષણ કરી શકે તેને ફીલોશોફર કહી શકાય…. સ્વેટ માર્ડન

 જો તમારી ફરજને સલામ કરશો,તો બીજા કોઈને સલામ કરવાની જરૂર નહિ પડે,પણ ફરજ ચૂકશો તો બધને સલામ કરવી પડશે…ડો.અબ્દુલકલામ

 

Advertisements

1 ટીકા

  1. બહુજ સરસ ક્વોટેશન્સ !

    મોટા ભાગે ગુજરાતીઓ આ બાબતમાં સાહસિક કેમ નથી?
    રાજભાષા હિન્દી પ્રચાર કેન્દ્રોને નુક્તા અને શિરોરેખા મુક્ત ગુજનાગરી લિપીની સરળતા સમજાવા કોઈ તૈયાર નથી.જો હિન્દી રોમન અને ઉર્દુ લિપીમાં લખાય તો ગુજનાગરી લિપીમાં કેમ નહિ? સર્વ શ્રેષ્ટ ગુજનાગરી લિપીમાં ભારતની બધીજ ભાષાઓ કેમ ન શીખી શકાય ?શિક્ષણ વિભાગ આ બાબતમાં નિર્ણય કેમ લઇ શકતું નથી?
    બોલીવૂડ જરૂર હિન્દી શીખવશે પણ અંગ્રેજી ??
    saralhindi.wordpress.com
    http://iastphoneticenglishalphabet.wordpress.com/

    Like

Saralhindi ને પ્રતિસાદ આપો જવાબ રદ કરો

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  બદલો )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  બદલો )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  બદલો )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  બદલો )

Connecting to %s

મન સરોવર

Just another WordPress.com weblog

વિવિધા

Just another WordPress.com site

GujConnect

Website for Employees of Government of Gujarat

EVidyalay

Just another WordPress.com site

ગુજરાતી પ્રતિભા પરિચય

ગુજરાતનાં પનોતા સંતાનોનો પરિચય

ડૉ. પ્રવીણ શાહ નો બ્લોગ

જીવનની દરેક ક્ષણને માણો

Dr.Hansal Bhachech's Blog

Psychiatrist and Author

हृदयानुभूति

कविता लिखी नहीं जाती स्वतः लिख जाती है...

%d bloggers like this: